Thursday, 14 August 2014

करे अपने फेसबुक अकाउंट का बैकअप

facebook

फेसबुक पर मौजूद डेटा की सुरक्षा आज बड़ा मसला बनती जा रही है। ऐसे में अपने फेसबुक अकाउंट के कंटेंट को समय-समय पर डाउनलोड कर उसका बैकअप लेते रहने में ही समझदारी है। खुद फेसबुक भी अपने यूजर्स को ऐसा करने की सलाह देता है। यह काम बेहद आसान है।
 

अगर आप फेसबुक पर हैं, तो कभी-न-कभी आपको अपने फोटो, कॉमेंट्स और दूसरे डेटा की सुरक्षा की चिंता जरूर हुई होगी। इसकी कई वजहें हो सकती हैं। तमाम सावधानियां बरतने के बावजूद ईमेल और सोशल नेटवर्किंग खाते हैक कर लेने की घटनाएं होती रहती हैं। कई बार हैकिंग के बाद मशक्कत कर आप अपना फेसबुक अकाउंट तो वापस पाने में कामयाब हो जाते हैं लेकिन निराशा तब होती है, जब अपना पूरा या थोड़ा डेटा गायब पाते हैं। कई मौकों पर फेसबुक के नए-नए फैसले भी यूजर्स के मन में डर पैदा करते हैं कि उसका कोई खास फीचर बदल जाने या किसी नई पॉलिसी आने पर आपका अकाउंट या डेटा आपसे जुदा न हो जाए। ऐसा भी होता है, जब कोई अपराधी किस्म का संगठन या हैकर पूरे के पूरे फेसबुक को ही मटियामेट कर देने की धमकी दे देता है।

शुक्र है कि फेसबुक में पूरा निजी डेटा अपने कंप्यूटर में डाउनलोड करने की सुविधा है। आपके तमाम संदेश, स्टेटस अपडेट, प्रोफाइल इंफर्मेशन, फोटो, विडियो, फ्रेंड्स संबंधी सूचनाएं और वॉल पोस्ट... सब के सब डाउनलोड कर कंप्यूटर में स्टोर किए जा सकते हैं। कुछ इस तरह कि उसे कंप्यूटर में भी देखना और सर्फ करना मुमकिन है।- अपने अकाउंट पर लॉग-इन करें।
- फेसबुक पेज पर ऊपर दाईं ओर दिए Account लिंक पर क्लिक करें।
- अब Account Settings सिलेक्ट करें।
- खुलने वाले पेज पर नीचे की ओर Download a copy of your Facebook data लिंक दिखाई देगा।
- इस लिंक को क्लिक करने पर नया पेज खुलेगा, जिस पर Start My Archive बटन होगा।
- आपके फेसबुक अकाउंट का बैकअप होना शुरू हो जाएगा। आपके प्रोफाइल में मौजूद कंटेंट के आकार के हिसाब से बैकअप तैयार होने की प्रक्रिया में कम या ज्यादा वक्त लग सकता है।
- यह प्रक्रिया पूरी होने पर फेसबुक में दर्ज किए गए ईमेल पते पर आपको एक वेरिफिकेशन मेल भेजा जाएगा।
- अपना ईमेल अकाउंट खोलें और फेसबुक से आई ईमेल खोलकर उसमें दिए लिंक को क्लिक करें।
- पूछे जाने पर अपना फेसबुक पासवर्ड डालें और फिर डाउनलोड बटन दबाएं।
- आपका सारा फेसबुक डेटा कम्प्रेस्ड (जिप) फाइल के रूप में डाउनलोड होने लगेगा।
- पूरा डेटा डाउनलोड होने पर उसे किसी अनजिप सॉफ्टवेयर (विनजिप, 7जिप आदि) के जरिए अनजिप कर लें। आपने फेसबुक अकाउंट का बैकअप ले लिया है।
- कम-से-कम महीने में एक बार अपना प्रोफाइल डेटा डाउनलोड करते रहें।

डाउनलोड के बाद
- जिप फाइल डाउनलोड होने के बाद उसमें मौजूद सामग्री का इस्तेमाल करना बहुत आसान है।
- जिप फाइल को अनजिप करने के बाद दो फोल्डर बन जाते हैं - Photos और HTML.
- फोटोज वाले फोल्डर में कुछ और सब-फोल्डर्स होते हैं, जैसे Profile Pictures, Wall Photos आदि।
- दूसरे फोल्डर (HTML) में कई तरह के वेब पेज और स्टाइल फाइलें होती हैं। इन फाइलों के नाम वही हैं, जो आपको फेसबुक के अलग-अलग ऑप्शंस में दिखाई देते हैं। जैसे मेसेज नाम की फाइल में क्लिक करने पर आपके पसंदीदा इंटरनेट ब्राउजर में आपके भेजे और रिसीव किए गए मेसेज दिखने लगते हैं।

बैकअप में है क्या-क्या
फेसबुक से डाउनलोड की गई जिप फाइल में करीब-करीब वह पूरी सामग्री होगी जो आपके फेसबुक पेज पर दिखाई देती है जैसे :
- आपकी टाइमलाइन इंफर्मेशन (बैकग्राउंड, रुचियां, ग्रुप्स आदि)
- आपके शेयर किए फोटोग्राफ
- आपके डाले विडियो
- सभी वॉल पोस्ट
- भेजे और मिले संदेश
- चैट संदेश
- आपकी तरफ से जोड़ी गई इवेंट्स का ब्यौरा
- आपके नोट्स
- फ्रेंड्स के नाम
- जिन फ्रेंड्स ने शेयर करने की इजाजत दी है उनके ईमेल पते

अगर आपको इतनी सामग्री काफी न लगे, तो फेसबुक से एक्सपैंडेड प्रोफाइल डाउनलोड करने की सुविधा का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए ऊपर दिए स्टेप-5 में खुलने वाले पेज पर नीचे एक लाइन में लिखी जानकारी के बीच expanded archive का लिंक दिखाई देगा। इसे क्लिक करने के बाद आपको एक बार फिर पासवर्ड वेरिफिकेशन के लिए कहा जाएगा। इस सुविधा के तहत दर्जनों तरह की जानकारियां मिलती हैं जिनमें बहुत सारी तकनीकी और प्रशासनिक किस्म की जानकारियां हैं, जैसे आपने किस कैटिगरी के यूजर्स को किस तरह के अधिकार दिए हैं और आपकी हर पोस्ट किस आईपी एड्रेस का इस्तेमाल करते हुए डाली गई आदि-आदि।

आम लोगों को एक्सपैंडेड प्रोफाइल डाउनलोड करने की जरूरत नहीं है। आपके मन में यह सवाल भी आया होगा कि क्या मैं डाउनलोड होने वाले कंटेंट को चुन सकता हूं, जैसे सिर्फ फोटोग्राफ या सिर्फ मेसेज? फेसबुक बैकअप में ऐसी कोई व्यवस्था नहीं है। आपकी सारी सामग्री एकमुश्त डाउनलोड होती है।

सुरक्षित है प्रक्रिया
जब फेसबुक बैकअप इतना आसान है तो कोई हैकर भी आपका सामान्य या एक्सपैंडेड डेटा डाउनलोड कर आपके भूत-भविष्य और वर्तमान का लेखा-जोखा नहीं रखने लगेगा? आपको यह चिंता है तो बेफिक्र रहिए क्योंकि डाउनलोड का लिंक भेजे जाने से पहले और डाउनलोड लिंक वाली ईमेल भेजे जाने के बाद आपसे दो बार अपने फेसबुक अकाउंट का वेरिफिकेशन करने को कहा जाता है। अगर आप किसी ऐसे कंप्यूटर पर डेटा डाउनलोड कर रहे हैं जिसके जरिए आमतौर पर फेसबुक एक्सेस नहीं करते हैं, तो फिर यह वेबसाइट सिक्युरिटी वेरिफिकेशन का एक और स्टेप पूरा करने के लिए कहती है। तब आपसे किसी दोस्त के फोटो से जुड़ा सवाल पूछा जाता है या फिर आपके मोबाइल फोन पर संदेश आता है, जिसकी वेरिफिकेशन जरूरी होती है।

अगर हैक हो जाए अकाउंट
अगर आपके फेसबुक अकाउंट पर किसी हैकर ने कब्जा कर लिया है और आप उसे एक्सेस नहीं कर पा रहे तो इनमें से किसी वेब पते पर जाकर अपना अकाउंट रेस्टोर करने की प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं :

facebook.com/hacked
facebook.com/help/security

फेसबुक अपने अकाउंट का कंट्रोल वापस हासिल करने में आपकी पूरी मदद करता है। यहां न सिर्फ अपने, बल्कि दूसरे लोगों के अकाउंट हैक होने की सूचनाएं भी दे सकते हैं
धन्यवाद 







3 comments:

Post a Comment